गुण व उपयोग: बादाम पाक बल, वीर्य व औज की वृद्धि करता है। यह रस-रक्तादि धातुओं को बढ़ाकर शरीर को कान्तियुक्त बना देता है। ध्वजभंग, नंपुसकता, स्नायुदौर्बल्य में बहुत लाभदायक है। मस्तिष्क, हृदय की कमजोरी व शुक्र-क्षय, पित्त-विकार, नेत्र और शिरोरोग में लाभकारी है। इसके सेवन से शरीर पुष्ट होता है। यह सर्दियों में सेवन करने योग्य उत्तम पुष्टर्इ है। दिमागी काम करने वाले व सिर दर्द वाले को इस पाक का सेवन अवश्य करना चाहिए।

मात्रा व अनुपान: 10 से 20 ग्राम, गाय के दूध या पानी के साथ।

Write a review

Your Name:

Your Review:

Note: HTML is not translated!

Rating: Bad Good

Enter the code in the box below:

Custom Tab Here